Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सन्त कबीर नगर > संतकबीरनगर एसपी ने किया अजीबोगरीब केस का खुलासा,अवैध संबंधों को छुपाने के लिए करवाई थी माँ ने बेटे की हत्या.

संतकबीरनगर एसपी ने किया अजीबोगरीब केस का खुलासा,अवैध संबंधों को छुपाने के लिए करवाई थी माँ ने बेटे की हत्या.

 Special Coverage News |  15 Nov 2018 9:08 AM GMT  |  संतकबीर नगर

संतकबीरनगर एसपी ने किया अजीबोगरीब केस का खुलासा,अवैध संबंधों को छुपाने के लिए करवाई थी माँ ने बेटे की हत्या.
x

संतकबीर नगर के थाना क्षेत्र धनघटा में 11.नवंबर .2018 को ग्राम पचरा थाना धनघटा अन्तर्गत नदी के पास एक अज्ञात बालक आयु लगभग 6 वर्ष का शव बरामद हुआ. जिसकी बाद में मौके पर शिनाख्त आदर्श पासवान पुत्र राजीव पासवान निवासी ग्राम शंकरपुर थाना धनघटा के रूप में हुयी. मृतक की मां श्रीमती कविता की तहरीर पर मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराया गया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु गला घोंटकर किया जाना पाया गया और अज्ञात अभियुक्तों के विरूद्ध केस पंजीकृत किया गया.

चूँकि मृतक के पिता राजीव मुम्बई में रहकर काम करते है. परिवार में पत्नी, दो बहनें अन्तिम तथा खुशबू, मॉ, एक बेटा आदर्श (मृतक) तथा दो लड़कियाँ पल्लवी तथा आस्था हैं. एक बड़ी बहन रूपा की शादी राकेश पासवान पुत्र राजकुमार निवासी ग्राम मदारीपुर थाना रौनाही ,अयोध्या आयु 20 वर्ष से जून 2018 में हुयी है. राकेश अपनी ससुराल में रहकर दूल्हापुर पौली रोड पर एक मोटर साइकिल सर्विसिंग की दुकान पर बैठकर आयुर्वेदिक दवाईयां बेचने का काम करता है. घटना के दिन मृतक आदर्श को पड़ोस के बच्चे राजेश द्वारा साइकिल पर बैठाकर राकेश की दुकान तक छोड़ आने की बात प्रकाश में आयी किन्तु उसके बाद आदर्श का पता नही चला. राकेश द्वारा इस बात से इंकार किया गया कि आदर्श उसके पास आया था तथा मृतक की मॉ द्वारा राजेश के परिजनों पर पारिवारिक विवाद के कारण हत्या किये जाने का संदेह व्यक्त किया जा रहा था.



घटना की गहनता से जांच किये जाने पर राकेश तथा कविता द्वारा घटनाक्रम के बारे में निरन्तर झूठ बोला जाना तसदीक हुआ. पूरे घटनाक्रम का खुलासा होने पर जानकारी हुयी कि कविता के पिता राजीव के मुम्बई में बाहर रहने के दौरान कविता तथा राकेश के आपसी शारीरिक सम्बन्ध हो गये थे तथा एक रात्रि में मृतक आदर्श द्वारा दोनों को आपत्तिजनक अवस्था में देख लिया गया था. मृतक का पिता पहले से ही अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह करता था. जिस कारण पति पत्नी में विवाद भी रहता था. आदर्श स्वभाव से चंचल था तथा कविता को यह संदेह हो गया कि वह अपने पिता को सारी बात बता देगा. इस कारण उसने कई दिन पूर्व से राकेश के साथ मिलकर आदर्श की हत्या की योजना बना ली तथा घटना के दिन आदर्श को पहले मोटरसाइकिल पर राकेश बैठाकर हत्या के उद्देश्य से ले गया. किन्तु बाद में कविता ने उसे वापस बुला लिया तथा यह कहा कि गांव में लोगों ने आदर्श को तुम्हारे साथ ले जाते देख लिया है इसलिये तुम पर शक हो जायेगा. इसके बाद कविता ने पडोस के बच्चे राजेश को बुलाकर साइकिल से आदर्श को उसके फूफा की दुकान पर छोड आने को कहा. राजेश आदर्श को साइकिल से दुकान के पास छोड़कर बाजार चला गया.

राकेश दुकान से आदर्श को बहलाकर मोटरसाइकिल पर पीछे बैठाकर पचरा ग्राम में घटनास्थल के पास ले गया तथा सड़क पर मोटरसाइकिल खड़ी कर आदर्श को साथ लेकर नीचे उतरकर घटनास्थल पर ले गया जंहा अपने हाथों से उसका गला घोंटकर हत्या कर दी तथा उसका तावीज गले में कस दिया तथा वापस दुकान पर आ गया. इसके बाद पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार कविता ने दोपहर में फोन कर राकेश को घर पर खाना खाने के लिये बुलाया तथा जब राकेश खाना खाकर लौट गया तो फोन कर आदर्श के कई घण्टों से घर पर न मिलने की बात कही जिस पर आदर्श को खोजने का नाटक करते हुये राकेश घटनास्थल पर पंहुच गया तथा लाश बरामद कर ली.

आज प्रातः 07.00 बजे अभियुक्त राकेश तथा श्रीमती कविता को उनके घर से गिरफ्तार किया गया तो उन्होने पूरी घटना का इकबाल किया तथा अभियुक्त राकेश की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल यूपी 42 ए आर 9461 एच एफ डीलक्स तथा तीन मोबाइल बरामद कर लिये गये है.

गिरफ्तारी टीम में थाना प्रभारी धनघटा संतोष तिवारी, उपनिरीक्षक नसीबुद्दीन चैकी प्रभारी पौली, एसआई दयानाथ राम, आरक्षी मिथिलेश मिश्रा, चन्द्रकेश यादव सम्मिलित रहे. घटना के सफल अनावरण पर पुलिस अधीक्षक संतकबीरनगर आकाश तोमर द्वारा पुलिस टीम को 25000 रुपये का पुरस्कार देने की घोषण की गयी है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it