Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > शाहजहांपुर > शाहजहांपुर केस: लापता लड़की को ढूंढने में जुटी UP पुलिस, 7 टीमों का गठन

शाहजहांपुर केस: लापता लड़की को ढूंढने में जुटी UP पुलिस, 7 टीमों का गठन

स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ धमकी देने और उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में लॉ कॉलेज की 23 साल की छात्रा गायब है.

 Special Coverage News |  30 Aug 2019 5:15 AM GMT  |  दिल्ली

शाहजहांपुर केस: लापता लड़की को ढूंढने में जुटी UP पुलिस, 7 टीमों का गठन
x

शाहजहांपुर : पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ धमकी देने और उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में लॉ कॉलेज की 23 साल की छात्रा गायब है. जब से लड़की के द्वारा स्वामी चिन्मयानंद पर आरोप लगाया गया है तभी से उसका पता नहीं चल पाया है. अब इस मामले में उत्तर प्रदेश की पुलिस ने सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया है और लड़की को ढूंढने के लिए सात टीमों का गठन किया है.

फिलहाल आखिरी बार लापता लड़की को देश की राजधानी दिल्ली के एक होटल के बाहर देखा गया था, जहां पर पहुंची टीम ने उसके साथ गए एक लड़के का पहचान पत्र भी रिकवर किया है. हालांकि, लड़की नहीं मिली है.

बताया जा रहा है कि आखिरी बार उसने अपनी मां से बात की थी, जब वह काफी घबराई हुई थी. पुलिस पिछले तीन दिनों से लड़की की तलाश में जुटी है लेकिन कामयाबी नहीं मिल पाई है.

गौरतलब है कि जब से ये मामला सामने आया है, उसपर विवाद बढ़ता गया है. राजनीतिक बयानबाजी के बाद इस मामले ने और भी जोर दिया, बाद में डीजीपी के निर्देश पर स्वामी चिन्मयानंद पर केस दर्ज कर लिया गया. लापता लड़की के पिता ने स्वामी चिन्मयानंद पर धमकी देने, 5 करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है. अब पुलिस इसी आधार पर आगे की कार्रवाई कर रही है.

आपको बता दें कि अब ये मामला देश की सर्वोच्च अदालत तक पहुंच गया है. सुप्रीम कोर्ट में कुछ वकीलों ने याचिका दायर कर अदालत से इस मामले में संज्ञान लेने की अपील की है.

वकीलों द्वारा चिट्ठी में लिखा गया है कि आरोप लगाने वाली छात्रा 3 दिनों से गायब है, लिहाजा SC को इस मामले में दखल देना चाहिए. जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में संज्ञान लिया है. जस्टिस आर भानुमति की पीठ शुक्रवार को इस मामले में सुनवाई करेगी. लॉ कॉलेज की छात्रा द्वारा एक वीडियो जारी कर स्वामी चिन्मयानंद पर गंभीर आरोप लगाए गए थे, हालांकि जब पत्रकारों ने स्वामी चिन्मयानंद से इस बारे में सवाल पूछा तो उन्होंने चुप्पी ही साधे रखी.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it