Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > शाहजहांपुर > यूपी में छठ पूजा करने जा रही महिला की ट्रेन में पीट पीट कर हत्या

यूपी में छठ पूजा करने जा रही महिला की ट्रेन में पीट पीट कर हत्या

 Special Coverage News |  11 Nov 2018 3:44 AM GMT  |  लखनऊ

यूपी में छठ पूजा करने जा रही महिला की ट्रेन में पीट पीट कर हत्या
x

उत्तर प्रदेश में बदमाशों के हौसले किस कदर बुलंद हैं इसका एक उदाहरण शाहजहांपुर जिले में देखने को मिला. जहाँ ट्रेन से जालंधर से बिहार के डेहरी आन सोन छठ पूजा करने जा रही एक महिला की दो युवकों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी. महिला का गुनाह सिर्फ इतना था कि उसने युवकों को ट्रेन में सिगरेट पीने से मना किया था. महिला के परिजनों को जैसे ही घटना की सूचना मिली वे तुरंत शाहजहांपुर के लिए रवाना हो गए.

परिजनों ने बताया कि टाटा अमृतसर जालियावाला बाग एक्सप्रेस ट्रेन से 50 वर्षीय चिंता देवी अपने बेटे राहुल और बहू बबिता के साथ जालंधर से छठ पूजा करने घर आ रही थीं. इसी दौरान जनरल कोच में बैठे दो युवकों ने सिगरेट पीना शुरू कर दिया. जब चिंता देवी ने उन्हें मना किया तो युवक बदतमीजी करने लगे. उन्होंने आगे बताया कि बचाव करने सामने आये बेटे राहुल व बहू बबीता को भी युवकों ने जमकर पीटा. उसके बाद बेटे-बहू का बचाव करने आई चिंतादेवी की भी युवकों ने पिटाई की, जिससे उनकी मौत हो गई.

इस दौरान एक आरोपी चेन पुलिंग कर फरार हो गया. पर दूसरा रेल पुलिस के हत्थे चढ़ गया. पकड़े गये युवक की पहचान आजमगढ़ के कप्तानगंज के रहने वाले सोनू के रूप में हई है. उसके साथियों के बारे में जीआरपी पूछताछ कर रही है. हादसे के बाद से मृतका के घर में लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है.यूपी में बदमाशों के हौसले किस कदर बुलंद हैं इसका एक उदाहरण शाहजहांपुर में देखने को मिला. ट्रेन से जालंधर से बिहार के डेहरी आन सोन छठ पूजा करने जा रही एक महिला की दो युवकों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी. महिला का गुनाह सिर्फ इतना था कि उसने युवकों को ट्रेन में सिगरेट पीने से मना किया था. महिला के परिजनों को जैसे ही घटना की सूचना मिली वे तुरंत शाहजहांपुर के लिए रवाना हो गए.

परिजनों ने बताया कि टाटा अमृतसर जालियावाला बाग एक्सप्रेस ट्रेन से 50 वर्षीय चिंता देवी अपने बेटे राहुल और बहू बबिता के साथ जालंधर से छठ पूजा करने घर आ रही थीं. इसी दौरान जनरल कोच में बैठे दो युवकों ने सिगरेट पीना शुरू कर दिया. जब चिंता देवी ने उन्हें मना किया तो युवक बदतमीजी करने लगे. उन्होंने आगे बताया कि बचाव करने सामने आये बेटे राहुल व बहू बबीता को भी युवकों ने जमकर पीटा. उसके बाद बेटे-बहू का बचाव करने आई चिंतादेवी की भी युवकों ने पिटाई की, जिससे उनकी मौत हो गई.

इस दौरान एक आरोपी चेन पुलिंग कर फरार हो गया. पर दूसरा रेल पुलिस के हत्थे चढ़ गया. पकड़े गये युवक की पहचान आजमगढ़ के कप्तानगंज के रहने वाले सोनू के रूप में हई है. उसके साथियों के बारे में जीआरपी पूछताछ कर रही है. हादसे के बाद से मृतका के घर में लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it