Top
Begin typing your search...

रेप पीड़ित बालिका की हालत हुई नाजुक विधायक ने कराया भर्ती

लापरवाही पर विधायक महिला सीएमएस व डॉक्टरों पर गरजे, सीएम से की कार्यवाही की मांग

रेप पीड़ित बालिका की हालत हुई नाजुक विधायक ने कराया भर्ती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

-- लापरवाही पर विधायक महिला सीएमएस व डॉक्टरों पर गरजे, सीएम से की कार्यवाही की मांग

--- 7 जनवरी को तिलहर क्षेत्र में मासूम छात्रा के साथ दुराचार की घटना

शाहजहांपुर। मासूम लड़की के साथ दुराचार तथा उसका गला दबाकर हत्या करने के प्रयास के मामले में पीड़ित लड़की की हालत बिगड़ने पर बीजेपी विधायक ने उसे मेडिकल कॉलेज में न केवल भर्ती कराया बल्कि महिला सीएमएस व लापरवाही बरतने बाले चिकित्सकों के खिलाफ कार्यवाही किये जाने की सीएम योगी से मांग की है।

आपको बता दें की बीती 7 जनवरी को तिलहर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में 11 वर्षीय लड़की जो कि कक्षा की छात्रा है को देर शाम शौच जाने के दौरान रमेश पुत्र छोटेलाल ने जबरन दुराचार करने के दौरान चीखने और किसी को बता देने की आशंका के चलते उसका गला दबाकर हत्या करने का प्रयास भी किया था । और लोगों के आने की आहट पर वह बच्ची को वेहोशी की अवस्था मे छोड़कर भाग गया था।

पुलिस ने घटना में नामजद आरोपी को अगले दिन ही गांव जोगिपर स्थित उसके घर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था । उधर पुलिस ने पीड़ित बालिका का चिकित्सा परीक्षण कराया । लेकिन जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने बालिका को भर्ती नहीं किया था । सोमवार को क्षेत्रीय जिला पंचायत सदस्य सौरभ सिंह गांधी पीड़ित बालिका का हाल लेने गांव पहुंचे और परिवार को आर्थिक सहयोग दिया।

मंगलवार को विधायक रोशनलाल वर्मा गांव पहुंचे और पीड़ित बालिका के परिजनों से भेंट कर बालिका का हाल जाना। बालिका के पिता द्वारा उसकी हालत खराब होने की बात सुनते ही विधायक अपनी गाड़ी से उसे तत्काल जिला अस्पताल ले गए। जहां सीएमएस से रेप पीड़िता बच्ची के मामले में लापरवाही पर जमकर गरजे। सीएमएस ने उनके संज्ञान में मामला न होने और महिला सीएमएस के संज्ञान में होना बताया।

फिर क्या था विधायक श्री वर्मा ने बच्ची को उसी दिन भर्ती न करने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए न केवल नाराजगी जताई बल्कि महिला सीएमएस व डॉक्टरों के खिलाफ कार्यवाही की बाबत प्रमुख सचिव व मुख्यमंत्री योगी से मांग की। फिलहाल पीड़ित बालिका को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it