Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > शामली > सीएम योगी ने आईआईए सचिव अनुज गर्ग की पीठ थपथपाई,चीनी उत्पाद से झाड़ा पल्ला दिया आश्वासन

सीएम योगी ने आईआईए सचिव अनुज गर्ग की पीठ थपथपाई,चीनी उत्पाद से झाड़ा पल्ला दिया आश्वासन

 Shiv Kumar Mishra |  2 July 2020 11:21 AM GMT  |  दिल्ली

सीएम योगी ने आईआईए सचिव अनुज गर्ग की पीठ थपथपाई,चीनी उत्पाद से झाड़ा पल्ला दिया आश्वासन
x

शामली: केंद्र सरकार द्वारा चीन के ऐप्स पर प्रतिबंध लगाए जाने के बाद शामली के उद्यमी अनुज गर्ग ने अपनी ईकाई में आयात होने वाले चीन के कच्चे माल पर ब्रेक लगा दिया है। साथ ही, विकल्प के रूप में बेल्जियम और स्वीडन से कच्चा माल आयात कर उत्पादन शुरू कर दिया। आईआईए सचिव अनुज गर्ग ने देश हित में उठाए कदम से उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट कर उनको अवगत कराया है। साथ ही, निर्यात और आयात में आ रही व्यवहारिक दिक्कतों से मुख्यमंत्री को अवगत कराया है। मुख्यमंत्री ने प्राथमिकता पर समस्याओं को दूर कराए जाने का भरोसा युवा उद्यमी को दिया है।

चीन के प्रति ऐसे पनपी नफरत

दरअसल, भारत-चीन सीमा पर गवलान घाटी में दोनों देशों के सैनिकों में गश्त के दौरान 15-16 जून की रात में झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। इसी बीच प्रधानमंत्री ने वैश्विक कोरोना महामारी के चलते देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए आत्मनिर्भर भारत बनाने की पहल की। फिर, प्रधानमंत्री की पहल पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को कोरोना संकट से उबारने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की। इसके बाद केंद्र सरकार ने एक जुलाई को चीन के 59 ऐप्स भी प्रतिबंधित कर दिए।

अनुज गर्ग ने चीनी उत्पाद से झाड़ा पल्ला

आईआईए चेप्टर शामली के सचिव अनुज गर्ग की शामली औद्योगिक क्षेत्र में अमर स्प्लिंट्स के नाम औद्योगिक ईकाई है। जिसमें मैच बॉक्स के अलावा आईस स्टीक, वुड्स स्पून, अगरबत्ती आदि बनाई जाती हैं। इसके लिए कच्चा माल चीन से आयात किया जाता था। लेकिन चीन सीमा पर भारतीय सैनिकों के शहीद होने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'आत्मनिर्भर भारत' को मजबूत बनाने के आह्वान से युवा उद्यमी अनुज गर्ग प्रभावित हुए। जिस पर उन्होंने चीन से कच्चा माल बनाना बंद कर दिया।

नया विकल्प बने यूरोपीय देश

अमर स्प्लिंट्स के चेयरमैन अनुज गर्ग बताते हैं कि उनकी ईकाई में ब्रंच वुड का इस्तेमाल होता है। ब्रंच वुड को अब तक चीन से मंगाया जाता रहा है। अनुज के अनुसार, चीन से प्रोडक्ट के विकल्प के रूप में गूगल पर ऐसे देश सर्च किए गए जहां ब्रंच वुड उपलब्ध है। जिसमें यूरोपीय देश बेल्जियम तथा स्वीडन समेत कई देश मिले। फिर, इन देशों से ब्रंच वुड मंगानी प्रारंभ कर दी है।

सीएम आफिस से आया बुलावा

आईआईए चेप्टर शामली के सचिव अनुज गर्ग ने बताया कि सप्ताह के प्रारंभ में मुख्य सचिव नवनीत सहगल की फोन कॉल आयी। सहगल ने बताया कि उप्र प्रदेश सरकार सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को बढ़ावा दे रही है। इसके बाद एक जुलाई को वे लखनऊ में मुख्य सचिव नवनीत सहगल से मुलाकात की। उनको सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों के सामने कोरोना संक्रमण के चलते आ रही समस्याओं से अवगत कराया। साथ ही, उनको कुछ सुझाव भी दिए। मुख्य सचिव को बताया गया कि बंदरगाह से यूपी काफी दूरी पर है। माल मंगाने में काफी परेशानी उठानी पड़ती है। इसलिए भाड़ा सब्सिडी देनी चाहिए।

मुख्यमंत्री योगी से मुलाकात

मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने आईआईए चेप्टर शामली के सचिव अनुज गर्ग की समस्याएं सुनने के बाद उनकी मुलाकात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कराई। युवा उद्यमी ने मुख्यमंत्री को चीन से आयात की जाने वाली ब्रंच वुड्स पर ब्रेक लगाए जाने की जानकारी दी। साथ ही, सीएम को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों के सामने आ रही समस्याओं से अवगत कराते हुए सहानुभूतिपूर्वक उन पर विचार करने की मांग की। इस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के उद्यमियों की उद्योगों से जुड़ी समस्याओं के हर संभव समाधान का आश्वासन दिया।

आईआईए चेयरमैन ने जताया आभार

आईआईए चेप्टर शामली के चेयरमैन अशोक कुमार मित्तल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मुख्य सविच नवनीत सहगल द्वारा जनपद के युवा उद्यमी अनुज गर्ग के माध्यम से सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों की समस्याएं सुनकर उनके समाधान का आश्वासन दिए जाने पर आभार जताया है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it