Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सुल्तानपुर > यूपी में हार्दिक पटेल बोले अमित शाह गुंडा है

यूपी में हार्दिक पटेल बोले अमित शाह गुंडा है

हार्दिक ने कहा कि हिंदुस्तान की सुरक्षा पर उठे सवालों पर हम सहमत नही हो सकते चाहे सिद्धू हो या नरेन्द्र मोदी।उन्होंने केन्द्र सरकार की कार्रवाई पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 300 कुंतल चीनी बंद करने से पाकिस्तान कमजोर नही हो जाता।

 Special Coverage News |  20 Feb 2019 2:07 PM GMT  |  सुल्तानपुर

यूपी में हार्दिक पटेल बोले अमित शाह गुंडा है

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने आज सुल्तानपुर में पत्रकारों से बात-चीत में कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह गुंडा है,और यह आरोप मैं बार बार लगाता हूं, उन्होंने कहा कि जस्टिस लोया का मामला हो या पलिया का,गोधरा काण्ड का हो या एक लड़की की जासूसी करने के मामले कई मुकदमे दर्ज है,वह किस तरह की राजनीति करता है,यह सब जानते है,अगर उसे गुंडा कहना गलत है तो यह गल्ती मैं बार बार करता हू,किसी राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष को गुंडा कहने के सवाल पर हार्दिक पटेल ने कहा कि वह भगवान राम है क्या,मैंने भगवान राम को गाली नही दी,जो माता सीता को गाली देकर बी जे पी में चला जाए,तो उसे गाली ही देनी चाहिए न!

हार्दिक पटेल ने पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के मामले में केन्द्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है,उन्होंने कहा कि खुफिया रिपोर्ट में जब जानकारी मिल चुकी थी तब 2500 जवानों को सड़क के रास्ते क्यों भेजा गया,उन्होंने कहा कि सी आर पी एफ के जवानों की पेंसन अटल सरकार में ही बंद किया गया,सी आर पी एफ को आज तक सेना का दर्जा नही मिला इसके लिए कौन जिम्मेदार है।

हार्दिक ने कहा कि हिंदुस्तान की सुरक्षा पर उठे सवालों पर हम सहमत नही हो सकते चाहे सिद्धू हो या नरेन्द्र मोदी।उन्होंने केन्द्र सरकार की कार्रवाई पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 300 कुंतल चीनी बंद करने से पाकिस्तान कमजोर नही हो जाता।

भाजपा के राष्ट्रीयता होने की बात पर हार्दिक पटेल ने कहा कि देश के 47 जवान अब तक शहीद हो चुके है,यू पी बीजेपी के 200 से अधिक विधायक है,एक भी विधायक अपनी तनख्वाह दे दे बाकी लोगो का तो घर परिवार है मुख्यमंत्री योगी ही अपनी पूरी पगार दे दे,तो हम भी मान ले कि बीजेपी राष्ट्रीय पार्टी है।

पिछड़े व अनुसूचित जाति को उच्च शिक्षा के क्षेत्र ने व केंद्रीय सेवाओ में भागीदारी न मिलने के सवाल पर हार्दिक पटेल ने कहा कि,आरक्षण भीख नही है,पाटीदार को केवल गुजरात में पिछडो की सूची से बाहर रखा,अलग अलग राज्यो में अलग अलग स्थिति है,वह चाहते है कि सरकार मंडल कमीशन की रिपोर्ट को सही ढंग से लागू करे,किसानों को उसकी उपज का सही लाभ मिले,सवर्णो को 10 फीशदी आरक्षण का लालीपाप तो सरकार ने दे दिया,लेकिन नौकरी कहा यह तो बताया नही।उन्होंने कहा कि आरक्षित वर्ग के 4लाख56 हजार पदों की भरने की वह मांग करते है।किसानों को 6हजार वार्षिक देना भी लॉलीपॉप है,विजली,पानी मुफ्त करे,उपज के दाम दो गुना कर दे,किसानों की यही सच्ची मदद है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top