Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सुल्तानपुर > मैने पति की मौत के बाद उनका नाम जिंदा रखने के लिए सेवा का रास्ता चुना, और ये शेखचिल्ली बोलते है हम 72000 देंगे - मेनका गाँधी

मैने पति की मौत के बाद उनका नाम जिंदा रखने के लिए सेवा का रास्ता चुना, और ये शेखचिल्ली बोलते है हम 72000 देंगे - मेनका गाँधी

उन्होंने मंच से कहा कि मैने पति की मौत के बाद उनका नम जिंदा रखने के लिए सेवा का रास्ता चुना। तब से अब तक मै देश में अलग-अलग तरीको से सेवा कर रही हूं। मै अनाथ आश्रम चलाती हूं।

 Special Coverage News |  1 April 2019 12:58 PM GMT  |  दिल्ली

मैने पति की मौत के बाद उनका नाम जिंदा रखने के लिए सेवा का रास्ता चुना, और ये शेखचिल्ली बोलते है हम 72000 देंगे - मेनका गाँधी

सुल्तानपुर. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल की ग़रीब को 72 हजार सलाना देने की घोषणा पर उनकी चाची मेनका गांधी ने तंज कसा है। सोमवार को मीडिया से बात करते हुए मेनका गांधी ने कहा कि गरीबों को 72 हजार की बात शेख चिल्ली है। सनद रहे की केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी बीजेपी के टिकट पर सुल्तानपुर से चुनाव मैदान में हैं, और उन्होंने आज तीसरे दिन भी यहां ताबड़तोड़ सभाएं कर विरोधी दलों में हड़कम्प मचा दिया है।

सोमवार को वो इसौली विधानसभा के हसनपुर में पहुंची थीं। यहां मीडिया से बात करते हुए उन्होंने आगे कहा कि सपना बनाना-सपना दिखाना कांग्रेस कितने सालों से कर रही है। मेनका ने कहा कि ये जो शेख चिल्ली सुना न, बाहर बैठकर के मुंगेरीलाल के सपने देख-देख के की 72 हजार देंगे। अब उनको मौका नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा जी जान लगाकर हम लोगों ने काम किया, जितना अच्छा कर सकते थे किए, इससे भी अच्छा करेंगे। राहुल गांधी के अमेठी से चुनाव जीतने की बात पर उन्होंने कहा मै भविष्यवाणी नहीं कर सकती हूं।

मेनका बोलीं हिंदू-मुसलमान दोनो देते हैं वोट

वही सुल्तानपुर विधानसभा सीट के दूबेपुर में एक सभा को संबोधित करते हुए मेनका ने विरोधी खेमे में उस वक़्त हड़कम्प मचा दिया जब उन्होंने मंच से कहा कि मैने पति की मौत के बाद उनका नम जिंदा रखने के लिए सेवा का रास्ता चुना। तब से अब तक मै देश में अलग-अलग तरीको से सेवा कर रही हूं। मै अनाथ आश्रम चलाती हूं। मै सात दफा सांसद रही, मुझे हिंदू-मुसलमान दोनो वोट देते हैं। मेनका के इस बयान के बाद कांग्रेस और गठबंधन प्रत्याशी में बेचैनी बढ़ गई, दोनो ही अपने-अपने वोट बैंक को बचाने में लग गए।

जाति और कौम नहीं मै चाहती हूं सबके लिए हो काम

उधर अहिमाने बाजार में एक सभा में मेनका ने भीड़ से सवाल किया मोदी जी ने पांच साल में क्या नहीं किया? फिर स्वयं ही जवाब देते हुए कहा औरतों का देखिए, एक वक़्त था शौचालय ढूढ़ते-ढूढ़ते हम लोग मर गए। अब घर-घर हो गया। गैस सिलेंडर सपने में भी आपने नहीं सोचा था, ये तो अमीरो की चीज थी।

उन्होंने ये भी कांग्रेस प्रत्याशी पर तंज कसते हुए कहा कि आज एक तरफ अच्छाई है एक तरफ बुराई है। वही गठबंधन के प्रत्याशी पर निशाना साधते हुए मेनका ने कहा दूसरी पार्टी से जो लोग लड़ रहे हैं वो बंदूक के बल पर लड़ रहे हैं। वो चाहते हैं डराए, क़त्ल करें, मारे- बुरा करें और पैसे चोरी करें। और इस तरीके से सांसद बने। एक तरफ हम हैं की चाहते हैं आप लोग उठो। आपकी रक्षा हो। जाति और कौम नहीं मै चाहती हूं सबके लिए काम हो।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top