Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सुल्तानपुर > सिरफिरे दूल्हा ने होने वाली दुल्हन की चाकू मारकर की हत्या और फिर खुद के सीने में घोंपा खंजर

सिरफिरे दूल्हा ने होने वाली दुल्हन की चाकू मारकर की हत्या और फिर खुद के सीने में घोंपा खंजर

 Special Coverage News |  11 Jun 2019 5:01 PM GMT

सिरफिरे दूल्हा ने होने वाली दुल्हन की चाकू मारकर की हत्या और फिर खुद के सीने में घोंपा खंजर

सुल्तानपुर नवनिर्वाचित संसदीय क्षेत्र मेनका गाँधी के जिले क्राइम का ग्राफ बढ़ गया है जहां सोमवार के दिन चांदा थाना क्षेत्र में दिन दहाड़े बदमाशों ने फाइनेंस कंपनी के सेल्समैन को गोली मार कर लगभग साढ़े 16 लाख रूपये लूट कर भाग गए तो वही दूसरी घटना देर सायंकाल एक युवक ने अपने होने वाली दुल्हन की चाकू मारकर हत्या कर दी।

इतना ही नहीं युवक ने युवती पर ताबड़तोड़ चाकुओं से वार करने के बाद खुद के सीने में भी चाकू घोंप लिया। फिलहाल उसे गंभीर हालत में इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। बताया ये जा रहा है कि मृतक युवती का किसी और युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था और घायल प्रेमी उसे समझाने पहुंचा था लेकिन युवती के मना करने के बाद उसने इस बड़ी वारदात को अंजाम दे दिया।

दरअसल मामला है दोस्तपुर थाना क्षेत्र के पहाड़पुर रायपट्टी गांव का। अभी तक आप लोगों ने केवल फिल्मों या फिर कहानियों में सुना होगा लेकिन आपको हम बिलकुल सत्य घटना से रूबरू कराते है मृतक प्रेमिका इसी गांव की रहने वाली सविता का विवाह कुछ दिनों में जयसिंहपुर थाना क्षेत्र के नथईपुर के रहने वाले नवीन कुमार से तय हुई थी। नवीन को जानकारी मिली कि सविता का किसी और युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा है। इसी बात से नाराज सोमवार की देर सायंकाल नवीन सविता के पास पहुंचा और उसे समझाने का बहुत प्रयास किया।

लेकिन सविता ने नवीन से मना कर देने पर सिरफिरे आशिक के सिर पर आशिकी का भूत सवार हो गया यानी कि यहाँ एक कहावत चरितार्थ होता है कि जब इश्क सिर पर चढ़कर बोलता है तो उसको कुछ आगे का रास्ता साफ नजर नहीं आता वैसा ही ठीक यहाँ हुआ कि नाराज नवीन ने सविता पर ताबड़तोड़ चाकू से हमला कर दिया। इतना ही नहीं सविता को चाकू मारने के बाद उसने खुद भी अपने सीने पर चाकू घोंप लिया। शोरगुल की आवाज सुनने के बाद ग्रामीण वहां पहुंचे और आनन फानन में पुलिस को सूचना दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने उन दोनों को दोस्तपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुँचाया, जहां डॉक्टरों ने सविता को मृत घोषित कर दिया और वही नवीन को गंभीर हालत में देखते हुए सुल्तानपुर जिला चिकित्सालय को रेफर कर दिया। जहां सिरफिरे आशिक का इलाज़ चल रहा है और वह जिंदगी व मौत के बीच जूझ रहा है। फिलहाल पुलिस मामले की जाँच पड़ताल कर रही है। हालाँकि इस मामले पर पुलिस अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top