Top
Begin typing your search...

सांसद मेनका संजय गांधी का ड्रीम प्रोजेक्ट वन स्टाप सेन्टर- सखी 48 लाख रूपए की लागत से बनकर तैयार

सांसद मेनका संजय गांधी का ड्रीम प्रोजेक्ट वन स्टाप सेन्टर- सखी 48 लाख रूपए की लागत से बनकर तैयार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सुलतानपुर,पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद मेनका संजय गांधी द्वारा 9 अक्तूबर 2019 को शिलान्यास कर जिले वासियों को वन स्टाप सेन्टर की सौगात दी गयी थी।15 महीने में 48 लाख रूपए की लागत से शहर से निजामपट्टी में तैयार हो रहा वन स्टाप सेन्टर - सखी का मेनका संजय गांधी द्वारा अगले दौरे के दौरान उद्घाटन किया जायेगा।सांसद मेनका संजय गांधी का ड्रीम प्रोजेक्ट वन स्टाप सेन्टर- सखी किसी भी कारण से पीड़ित महिलाओं के लिए सौगात के रूप में होगा।

आज सांसद प्रतिनिधि रणजीत कुमार, जिला प्रोवेशन अधिकारी राजेश कुमार, सांसद मीडिया प्रभारी विजय सिंह रघुवंशी , ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के अवर अभियंता राजकिशोर , समाज सेवी राजेश पांडेय एवं लेखपाल चन्द्रदेव सिंह ने आज मौके का निरीक्षण किया। सांसद प्रतिनिधि रणजीत कुमार ने जिला प्रोवेशन अधिकारी व कार्यदायी संस्था के अवर अभियंता को सांसद मेनका संजय गांधी द्वारा उद्घाटन करने के पूर्व तैयारी के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

सांसद मीडिया प्रभारी विजय सिंह रघुवंशी ने बताया कि वन स्टाप सेन्टर, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित होता है।इसका उद्देश्य घर के भीतर एवं घर के बाहर किसी भी रूप में पीड़ित व संकटग्रस्त महिला को आपातकालीन सुविधा तत्काल उपलब्ध करवाना है। वन स्टॉप सेंटर में जरूरतमंद महिलाओं को कानूनी सहायता, मानसिक सहायता के लिए काउंसिलिग, चिकित्सा सहायता, घरेलू हिसा से पीड़ित महिलाओं की सहायता, 5 दिन का अस्थाई आश्रय इत्यादि सुविधा एक ही छत के नीचे उपलब्ध करवाई जाती है।वन स्टॉप सेंटर में महिलाओं को घर जैसा माहौल दिया जाता हैं, ताकि वह अपनी समस्याओं को अच्छे से बता सके और उनकी समस्याओं का समाधान हो सके। पीड़ित व संकट ग्रस्त महिलाएं व बालिकाएं प्रत्यक्ष रूप से प्रस्तुत होकर या महिला हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर 181 या जिला कार्यालय महिला एवं बाल विकास विभाग, सखी सेंटर में जानकारी दे सकते है।सूचना देने वाले व्यक्ति की पहचान गोपनीय रखी जाती है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it