Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > उन्नाव > उन्नाव कांड: कुलदीप सेंगर के सहयोगी के बेटे को CBI ने किया गिरफ्तार

उन्नाव कांड: कुलदीप सेंगर के सहयोगी के बेटे को CBI ने किया गिरफ्तार

सीबीआई टीम ने विधायक और उनके करीबियों के 17 ठिकानों पर छापेमारी की है

 Special Coverage News |  4 Aug 2019 12:05 PM GMT  |  दिल्ली

उन्नाव कांड: कुलदीप सेंगर के सहयोगी के बेटे को CBI ने किया गिरफ्तार

बहुचर्चित उन्नाव रेप प्रकरण में आरोपित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की शह आरोपी शशी सिंह के बेटे नवीन सिंह को सीबीआई टीम ने रविवार को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। 18 सदस्यीय सीबीआई टीम रविवार को पीड़िता के गांव पहुंची। यहां पर विधायक के घर की सघन तलाशी ली और सीसीटीवी कैमरा भी खंगाला।

सीबीआई टीम ने अलग-अलग खेमो में बट कर गांव के कई लोगों से पूछताछ की। सीबीआई ने उस कमरे को भी देखा जहां पर पीड़िता ने विधायक पर रेप करने का आरोप लगाया था। घर पर नौकरों से पूछताछ की। सीबीआई के छापेमारी के दौरान कई कमरों में ताला बंद था। कुछ कमरों का ताला खुलवा कर तो कुछ का ताला तोड़ वाकर सीबीआई की फोरेंसिक टीम ने नमूने एकत्रित किए। विधायक कि शह आरोपित शशी सिंह के घर पहुंची सीबीआई टीम ने उसके बेटे नवीन सिंह पर धमकी देने का आरोप लगाया था। टीम ने नवीन को हिरासत में ले लिया।

बताया जाता है कि सीबीआई टीम ने विधायक और उनके करीबियों के 17 ठिकानों पर छापेमारी की है। उसमें विधायक का गांव और शहर में स्थित मकान और उनकी बहन का घर भी शामिल बताया जा रहा है। जिस में इन दिनों विधायक ने अपनी ऑफिस खोल रखी थी। विधायक के भाई मनोज सिंह जिस आवास में रहते हैं उसे व्हाइट हाउस के नाम से जाना जाता है। सीबीआई टीम ने यहां भी छापेमारी की और तमाम दस्तावेज खंगाले। सीबीआई के सदस्य मीडिया से दूर रहे।

रेप मामले की भी जांच साथ में

सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद हरकत में आई सीबीआई टीम ने विधायक पर लगे रेप समेत कई आरोपों की जांच एक साथ करने में जुट गई है। सुप्रीम कोर्ट की ओर से डेडलाइन तय होने की वजह से सीबीआई के लोग फुर्ती में काम कर रहे हैं। इस बाबत सीबीआई ने गांव के लोगों से भी यह जानकारी हासिल की है कि घटना वाले दिन विधायक कहां थे। पीड़िता जो आरोप लगा रही है वह किस हद तक सही है। पीड़ित परिवार की ओर से जो साजिश के तहत दुर्घटना कराने का आरोप लगाया गया है वह कितना सही है इस सभी बिंदुओं पर सीबीआई ने सवालों के जवाब तलाशने की कोशिश की है।

नवीन सिंह पर लगा था धमकी का आरोप

पीड़िता की मां और बहन लगातार आरोप लगा रहे थे कि सतीश सिंह के बेटे नवीन सिंह की ओर से जान से मारने की धमकी दी जा रही है। अफसरों को पत्र लिखकर उन्होंने इस पर कार्रवाई करने की मांग भी की थी। मामले में नवीन सिंह का नाम आने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई थी। सीबीआई टीम ने गांव पहुंचते ही नवीन सिंह पर शिकंजा कस दिया है। पूछताछ के लिए उन को साथ ले गई है।

सभी नौ आरोपित किए गए तलब

सीबीआई की ओर से सभी 9 आरोपितों को लखनऊ तलब किया गया है। इन पर पीड़िता की चाचा की ओर से साजिश के तहत दुर्घटना कराने का आरोप लगाया गया है। सीबीआई ने इन लोगों की तलाश भी तेज कर दी है। 5 अगस्त को इन लोगों को लखनऊ मुख्यालय अपना बयान दर्ज करने के लिए बुलाया गया है। सीबीआई की कार्रवाई से इन लोगों में दहशत का माहौल है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top