Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > वाराणसी > आज़म खान का ऐलान, गठबंधन के इन उम्मीदवारों का करेंगें खुलकर विरोध!

आज़म खान का ऐलान, गठबंधन के इन उम्मीदवारों का करेंगें खुलकर विरोध!

 Special Coverage News |  2019-01-07T15:50:02+05:30  |  वाराणसी

आज़म खान का ऐलान, गठबंधन के इन उम्मीदवारों का करेंगें खुलकर विरोध!

वाराणसी। बसपा और सपा की बीच होने जा रहे सियासी गठजोड़ के चलते जहाँ एक ओर मोदी की भाजपा हताश और परेशान है वही सपा के क़द्दावर नेताओं में शुमार राज्य के पूर्व मंत्री मौहम्मद आज़म खां ने सपा-बसपा के संभावित गठबंधन से अपील की है कि वे अवसरवादी और दूसरे दलों से खास कर फासिस्ट सोच रखने वाले दलों से आने वाले किसी दल बदलू व्यक्ति को लोकसभा का टिकट न दे। यदि गठबंधन ऐसा करता है तो उनके नेतृत्व वाली मशावर्ती कमेटी ऐसे प्रत्याशियों का खुलकर विरोध करेगी।


आज बनारस में हुई आज़म खान के नेतृत्व वाली मशावर्ती काउंसिल की मीटिंग के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस में आजम खान ने कहा कि देश और प्रदेश का माहौल तेज़ी से बदल रहा है।उसी को ध्यान में रखते हुए कुछ दलबदलू सासंद बनने के लिए गठबंधन का टिकट पाने का जुगाड़ लगाएँगे अगर ऐसे लोगों को गठबंधन ने टिकट दिया तो हम खुलकर विरोध करेगे। आजम खान के द्वारा यह कहना सपा कंपनी के लिए सिरदर्द बन सकता है पहले ही चाचा विरोध का बिगुल बजा रहे है अब आज़म खान भी सामने आते दिख रहे है।


वैसे चर्चा है कि सपा कंपनी के नए सीईओ अखिलेश यादव किसी को भी अहमियत नही देते है और ख़ासकर मुसलमान को,उनकी अपनी तिगडी है उन्हीं का बोलबाला है बाक़ी सब किनारे कर दिए गए है या कर दिए जाएँगे।वही आजम खान ने केंद्र की मोदी भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि अपने राजनैतिक लाभ के लिये CBI सरकारी तोते का दुरुपयोग कर रही है।मशावर्ती काउंसिल अपील करती है कि मोदी की भाजपा सरकार राजनैतिक लाभ के लिये संवैधानिक संस्थाओं का दुरूपयोग बन्द करे।


आज़म खां ने कहा कि ये देश संविधान से चलता है मगर जिस प्रकार बाबरी मस्जिद केस की सुनवाई को लेकर कुछ दल या साम्प्रदायिक संगठन सुप्रीमकोर्ट को धमका रहे हैं और उसे अप शब्द कह रहे हैं।ये ठीक नही है।मशावर्ती काउंसिल सुप्रीमकोर्ट से अपील करती है कि वो ऐसे दलों के बयान का स्वतः संज्ञान ले और उन पर कड़ी कार्यवाई करे।

Tags:    
Share it
Top