Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > वाराणसी > कोठे पर सगा भाई ग्राहक बनकर पहुंचा, सगे मौसा ने कोठे पर ले जाकर बेच दिया था

कोठे पर सगा भाई ग्राहक बनकर पहुंचा, सगे मौसा ने कोठे पर ले जाकर बेच दिया था

 Special Coverage News |  8 March 2019 5:04 AM GMT  |  वाराणसी

कोठे पर सगा भाई ग्राहक बनकर पहुंचा, सगे मौसा ने कोठे पर ले जाकर बेच दिया था
x

धर्मनगरी मानी जाने वाली काशी से मानवता और रिश्तों को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है. शहर के मडुवाडीह थानाक्षेत्र के शिवदासपुर में पुलिस ने रेड डालकर एक युवती को रेस्क्यू किया. यह युवती आठ-नौ साल पहले जब नाबालिग थी तो चंदौली स्थित अपने घर के सामने से लापता हो गई थी. तब से परिजन उसकी तलाश में जमीन आसमान एक किए हुए थे.

इस मामले में जानकारी देते हुए एसपी क्राइम ज्ञानेन्‍द्र प्रसाद ने बताया कि चंदौली निवासी एक दम्पति ने पिछले दिनों पत्र लिखकर अपनी बेटी के इस इलाके में होने की जानकारी दी थी. पत्र के मुताबिक़ आज से 8-9 साल पहले उनकी 12 वर्षीय बेटी घर के बाहर से खेलते समय गायब हो गयी थी.

इसके बाद उनके एक रिश्तेदार ने उन्हें उनकी बेटी को रेड लाइट एरिया में देखने की बात कही. जिसपर परिवार ने उसके चचेरे भाई को उस कोठे पर ग्राहक बनाकर भेजा. भाई ने उस युवती की फोटो और विडियो बनाकर परिवार वालों को दिखाया तो पुष्टि हो गई कि वह उनकी ही बेटी है.

इसके बाद वाराणसी क्राइम ब्रांच, मडुवाडीह थाना और महिला थाना की ज्वाइंट पुलिस टीम ने शिवदासपुर इलाके में छापेमारी की तो एक मकान से उस युवती को छुड़ाया गया. जिस्म के दलालों से आजाद होने के बाद बेटी अपनी मां से लिपट कर रोने लगी. उधर मां भी वर्षों बाद अपनी बेटी को इस हाल में देखकर रोती रही और कसम खाती रही कि अब चाहे कुछ भी हो जाए वह अपने कलेजे के टुकड़े को कभी अपने से अलग नहीं होने देगी.

इस मामले में पुलिस ने दो पुरुषों सहित तकरीबन आधा दर्जन महिलाओं को हिरासत में लिया है. युवती से पूछताछ में यह तथ्य सामने आया कि जब वह घर के सामने खेल रही थी, तभी उसका मौसा उसे बहला-फुसला कर अपने साथ ले आया. इसके बाद उसने मडुवाडीह इलाके में जिस्मफरोशों के हाथ उसे बेच दिया था.

भेलूपुर सीओ अनिल कुमार ने बताया कि युवती के इस खुलासे के बाद एक टीम बनाकर उसके मौसा की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है. इस रेस्क्यू ऑपरेशन को अंजाम देने वालों में सीओ अंकिता सिंह, थाना प्रभारी मडुवाडीह संजय त्रिपाठी, मडुवाडीह चौकी इंचार्ज अमित कुमार सिंह, क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर विक्रम सिंह, डीएलडब्लू चौकी इंचार्ज राघवेंद्र प्रताप सिंह अपनी टीम के साथ शामिल रहे.

पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि शिवदासपुर के अधिकतर कई घरों में जिस्मफरोशी का घिनौना धंधा चल रहा है. पुलिस अब इस इलाके में एक बड़े ऑपरेशन की तैयारी में है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it