Top
Begin typing your search...

ममता बोलीं- नड्डा-फड्डा नौटंकियां करवाते हैं, BJP अध्यक्ष बोले- ये बंगाल नहीं, ममता के संस्कार हैं

ममता बनर्जी ने तंज कसते हुए कहा कि यहां कभी गृह मंत्री होते हैं, तो कभी चड्‌ढा, नड्डा, फड्‌डा और भड्‌ढा।

ममता बोलीं- नड्डा-फड्डा नौटंकियां करवाते हैं, BJP अध्यक्ष बोले- ये बंगाल नहीं, ममता के संस्कार हैं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पश्चिम बंगाल दौरे पर गए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर गुरुवार को पथराव कर दिया, काफिले में उनके साथ कैलाश विजयवर्गीय भी थे जिनकी गाडी पर पथराव किया। इसके बाद राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तंज कसते हुए कहा कि यहां कभी गृह मंत्री होते हैं, तो कभी चड्‌ढा, नड्डा, फड्‌डा और भड्‌ढा। जब उन्हें ऑडियंस नहीं मिलती, तो वे अपने कार्यकर्ताओं से ऐसी नौटंकियां करवाते हैं।

ममता के बयान पर पलटवार करते हुए नड्डा ने कहा, 'मुझे बताया गया कि उन्होंने मेरे बारे में बहुत सारी संज्ञाएं दी हैं। यह उनके संस्कारों के बारे में बताता है। यह बंगाल का कल्चर नहीं है।' उन्होंने कहा, 'हमारे प्रधानमंत्री कहते हैं कि बंगाल की भाषा सुंदर है, बंगाल की संस्कृति सबसे सुंदर है। ममता जी जिस शब्दावली का प्रयोग करती है, वह बताता है कि उन्होंने बंगाल को समझा ही नहीं है। बंगाल हम सभी का है।'

डायमंड हार्बर शहर जा रहे थे नड्डा

पथराव उस वक्त हुआ, जब नड्डा कोलकाता से 24 परगना जिले के डायमंड हार्बर शहर जा रहे थे। डायमंड हार्बर ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी का संसदीय क्षेत्र है। प्रदर्शनकारियों ने रास्ता रोकने की कोशिश की। हमले में महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी घायल हुए। सुरक्षा में लापरवाही पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ममता बनर्जी सरकार से रिपोर्ट मांगी है।

विजयवर्गीय बोले- हमले की सूचना हमें रात में ही मिल गई थी

हमले के बाद दैनिक भास्कर ने कैलाश विजयवर्गीय से बात की। उन्होंने कहा कि बंगाल की संस्कृति में किसी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का स्वागत इस तरह नहीं होता। भाजपा को टारगेट किया जा रहा है। इससे पहले भी हमारी गाड़ी को तोड़ा गया है। हमले की सूचना हमें रात में ही मिल गई थी।

विजयवर्गीय ने बताया कि हमने केंद्रीय गृह मंत्रालय को ट्वीट और ई-मेल भी किया। गृह सचिव से बात की। उन्होंने बंगाल के डीजी से भी इस मसले पर चर्चा की थी। उन्होंने भरोसा दिया था कि ऐसी घटना नहीं होगी। इस सबके बावजूद यह सब होना निंदनीय है।

नड्डा ने TMC सरकार को खतरनाक बताया

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नड्डा ने ममता सरकार पर हमला करते हुए कहा कि यहां अराजकता, असहिष्णुता साफ-साफ दिखती है। पॉलिटिकल डिबेट के लिए कोई स्थान नहीं है। बंगाल विचारों के आदान-प्रदान के लिए जाना जाता रहा है, जिसने देश और दुनिया को दृष्टि दी है। जहां विवेकानंद और रवींद्रनाथ टैगोर ने अपने विचारों से दुनिया को जीता है। लेकिन, जिस तरीके से ममता बनर्जी सरकार चला रही हैं, वह खतरनाक है।

बंगाल में प्रशासन नाम की चीज नहीं: नड्ढा

उन्होंने कहा कि आज हमारे 8 बच्चे घायल हैं, भाजपा उनके साथ पूरी जिंदगी खड़ी रहेगी। आप देख सकते हैं मेरे बुलेटप्रूफ व्हीकल पर जो इम्पैक्ट आए हैं। कैलाश जी का बांया हाथ फ्रैक्चर हुआ है। मुकुल रॉय थे, वे भी नहीं बचे हैं। यहां कोई प्रशासन नाम की चीज नहीं है। राजनैतिक विद्वेष के साथ काम चल रहा है। क्या हम ऐसे ही बंगाल की कल्पना करते हैं? क्या यही रवींद्रनाथ का बंगाल है?

क्या यही श्यामाप्रसाद मुखर्जी का बंगाल है? जिन्होंने बंगाल को विभाजित होने से बचाया है। क्या आज इस तरीके की कल्पना ममता जी की सरकार के द्वारा की जा रही है कि यहां कोई डिस्कशन नहीं होगा।

आज ही रवींद्रनाथ टैगोर को नोबल प्राइज मिला था

उन्होंने कहा कि हमारा एक-एक कार्यकर्ता बंगाल की हर विधानसभा में जाकर कमल खिलाएगा और हमारी विचारधारा को आगे बढ़ाएगा। हमें ध्यान में रखना चाहिए कि 1930 में रवींद्रनाथ टैगोर को गीतांजली के लिए नोबल प्राइज आज ही मिला था। उन्होंने गीतांजलि में कहा था कि जब सिर ऊंचा रहता है और विचारों से कोई डरता नहीं है, तो वह सबसे उत्तम स्थिति होती है।

ममता को हिंदुत्व याद आ रहा

नड्डा बोले कि आज अंतर्राष्ट्रीय ह्यूमन राइट्स डे भी है। आज मुझे बंगाल में जो देखने को मिला। मैं तो छात्र आंदोलन से निकलकर आया हूं, सबकुछ देखकर आया हूं। हम लोग यह देखकर रुकने वाले नहीं है। आज हम जब इस बात की चर्चा कर रहे हैं, तो मुझे बताया गया कि ममता ने कहा कि मैं विवेकानंद के हिंदुत्व को मानती हूं। मगर उनकी बातें बताती हैं कि वे पढ़तीं कम हैं।

चुनाव में भाजपा 200 सीट जीतेगी

उन्होंने कहा कि चुनाव में लोग ममता जी को नमस्कार कहने वाले हैं। बंगाल में कमल खिलेगा, हम 200 सीटें जीतकर आएंगे। उन्होंने कहा कि मैं 100 लोगों का तर्पण कर चुका हूं, सारे परिवार के सदस्य वहां मौजूद थे। जिन हालात में पॉलिटिकल मर्डर कराए गए, उसके बाद उन्हें बंगाल की जनता कभी माफ नहीं करेगी। बंगाल के लोगों को तय करना है कि जब इलेक्टिव प्रतिनिधि ही सुरक्षित नहीं है तो आमजन का क्या होगा।

नड्डा ने कहा कि ऐसी सरकार बनानी चाहिए, जिसमें सभी का साथ हो सभी का विश्वास हो, यह निवेदन मैं बंगाल की जनता से करना चाहता हूं। यहां लूट हो रही हैं, राजनैतिक संरक्षण में हो रही हैंं। यह सब ममता जी के सीधे संरक्षण में हो रहा है। कोयला और बालू में लूट जारी है। अंतिम संस्कार में भी कट मनी लग रही है।

उन्होंने कहा कि देश में कोविड की ट्रेजेडी हुई। इस दौरान मोदी को मैनेजर के तौर पर लोगों ने पहचाना और ममता को मिस मैनेजमेंट के तौर पर जाना। केंद्रीय टीम को कोलकाता के अस्पताल में घूमने नहीं दिया गया। राज्य सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि यहां राशन में चोरी हुई। अम्फान में भ्रष्टाचार किया गया। हाईकोर्ट ने सीएसी से ऑडिट करवाए। इतना भय क्यों हैं मुख्यमंत्री को, जो वह इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गईं। यह पब्लिक मनी है, इसका कोई हिसाब-किताब नहीं है। जो पैसे मिले वह टीएमसी के कार्यकर्ताओं के अकाउंट में मिले।

उन्होंने कहा कि अगर मैं बिहार के चुनाव की बात करूं, तो यह कहना चाहता हूं कि अब चाहे बिहार का चुनाव हो या कर्नाटक, यूपी या मध्यप्रदेश का चुनाव हो, सभी जगह परिवार की पार्टियों को लोगों ने नकार दिया है और भाजपा को सपोर्ट किया है। यही बंगाल में भी होगा। यहां भी परिवार की पार्टी को लोग नकार देंगे। मोदी जी को सपोर्ट करेंगे। यह ममता जी के फ्रस्ट्रेशन की ही कहानी है, जो वह इस तरह की शब्दावली का प्रयोग कर रही हैं। मैं स्पष्ट शब्दों में कहना चाहता हूं कि हम डबल इंजन की सरकार बनाएंगे।

ममता सरकार कर रही अनदेखी- तोमर

वहीं, किसान आंदोलन पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए आए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पश्चिम बंगाल में जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले से ही बात शुरू की। उन्होंने कहा कि बंगाल में आज भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राज्यसभा के सांसद बंगाल में दौरे पर गए हैं। कार्यक्रम पहले से घोषित था। बंगाल की सरकार के ध्यान में भी वह कार्यक्रम था। इसके बावजूद जिस तरह की सुरक्षा चाहिए थी, वह नहीं मिली। आज उनके काफिले पर पथराव किया गया है।

तोमर ने कहा कि वहां पर हमारे महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी पर भी पथराव किया गया है। काफी समय से ध्यान में आ रहा है कि बंगाल में हिंसक घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। सामान्य तौर पर मतभेद होते हैं, लेकिन ऐसी घटनाएं देखने को नहीं मिलती थीं।

उन्होंने कहा कि ये घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं और यहां तक बढ़ गई हैं कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के काफिले पर पथराव हो रहा है। इस पर भी सरकार अनदेखी करे, ये निंदनीय है। मैं बंगाल की घटना की निंदा करता हूं और संबंधित लोगों पर कार्रवाई की मांग करता हूं।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it