Top
Begin typing your search...

पीएम किसान सम्मान निधि विवाद: ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर गुमराह करने का लगाया आरोप

ममता ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए पश्चिम बंगाल की अनदेखी का आरोप जड़ दिया है.

पीएम किसान सम्मान निधि विवाद: ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर गुमराह करने का लगाया आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता : मोदी सरकार और ममता बनर्जी का एक दूसरे पर हमला जारी है. पीएम मोदी ने ममता बनर्जी को पीएम किसान सम्मान निधि समारोह में घेरा, तो ममता भी कहां पीछे रहने वाली थी उन्होंने भी पीएम पर हमला बोलते हुए पश्चिम बंगाल की अनदेखी का आरोप जड़ दिया है.

प्रधानमंत्री ने पश्चिम बंगाल में पीएम किसान सम्मान निधि के पैसों से पश्चिम बंगाल के किसानों को अछूता रखने का ममता बनर्जी पर आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि ममता बनर्जी किसानों के मामले में भी राजनीति कर रही हैं. अब ममता बनर्जी ने पलटवार करते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री गलत तथ्य पेश कर कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं. ममता का कहना है कि उन्होंने दो बार केंद्र सरकार को पीएम किसान सम्मान निधि के बारे में पत्र लिखा है और दो दिनों पहले ही उन्होंने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से बात भी की है. ममता का आरोप है कि इस योजना को लेकर केंद्र सरकार पश्चिम बंगाल के साथ असहयोग कर रही है.

ममता ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री बंगाल के कल्याण को लेकर सचमुच गंभीर हैं तो बंगाल का पचास हजार करोड़ का बकाया पैसा तुरंत जारी करें. इसमें आठ हजार करोड़ रुपए का जीएसटी का बकाया भी शामिल है.

ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री को जवाब देते हुए कहा है कि उनकी विचारधारा और संविधान निर्माताओं का विचार एक ही है. प्रधानमंत्री ने कहा था कि ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल को अपनी विचारधारा से बर्बाद करके रख दिया है. ममता का कहना है कि उन्होंने पूरे मन से बंगाल के लोगों की सेवा की है और बंगाल के लोग उनके लिए परिवार की तरह हैं. ममता ने दावा किया कि बंगाल की जनता बंगाल को बदनाम करने की कोशिश का जवाब देगी.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it