Top
Home > राज्य > पश्चिम बंगाल > कोलकाता > West Bengal: दूसरी बार लगेगी ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मुर्ति

West Bengal: दूसरी बार लगेगी ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मुर्ति

प्रसिद्ध समाज सुधारक, शिक्षा शास्त्री और स्वाधीनता संग्राम के सेनानी थे।

 Sujeet Kumar Gupta |  7 Jun 2019 12:44 PM GMT  |  नई दिल्ली

West Bengal: दूसरी बार लगेगी ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मुर्ति
x

पश्चिम बंगाल। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी एलान किया है कि 11 जून को दोपहर 1:30 बजे ईश्वर चंद्र विद्यासागर की वंदनीय प्रतिमा को बदला जाएगा। लोकसभा चुनाव के दौरान कोलकाता में 14 मई को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो कर रहे थे। जिस दौरान पश्चिम बंगाल में ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ा गया था। इसके बाद वहा पर राजनीतिक सियासत शुरु हो गया। वहीं मूर्ति टूटने का आरोप तृणमूल कांग्रेस बीजेपी पर लगा रही है। ऐसे में अमित शाह ने खुद कुछ तस्वीर जारी की, जिसमें उन्होंने कहा कि विद्यासागर की मूर्ति को तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने तोड़ा है।

जान ले कौन हैं- ईश्वरचंद्र विद्यासागर का जन्म 26 सितंबर, 1820 को कोलकाता में हुआ था। वह एक प्रसिद्ध समाज सुधारक, शिक्षा शास्त्री और स्वाधीनता संग्राम के सेनानी थे। उन्हें गरीबों और दलितों का संरक्षक माना जाता था। उन्होंने स्त्री शिक्षा और विधवा विवाह के खिलाफ आवाज उठाई थी।



Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it