Top
Begin typing your search...

बंगाल में बोले पीएम मोदी, '23 मई के बाद भाग जाएंगे ममता के विधायक - 40 हमारे संपर्क में हैं'

पीएम मोदी ने कहा कि दीदी ने घोषणा की है अब वो मुझे बंगाल की मिट्टी-पत्थरों से बना रसगुल्ला खिलाना चाहती हैं..?

बंगाल में बोले पीएम मोदी, 23 मई के बाद भाग जाएंगे ममता के विधायक - 40 हमारे संपर्क में हैं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा हमला बोला। पीएम ने सेरमपुर में रैली के दौरान कहा कि चुनाव के बाद टीएमसी के कई विधायक पार्टी छोड़ने वाले हैं। उन्होंने दावा किया टीएमसी के 40 विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं। पीएम मोदी का यह बयान बंगाल की राजनीति में काफी उथल-पुथल पैदा कर सकता है।

पीएम मोदी ने कहा कि दीदी ने घोषणा की है अब वो मुझे बंगाल की मिट्टी-पत्थरों से बना रसगुल्ला खिलाना चाहती हैं। वाह क्या सौभाग्य है मेरा। बंगाल की मिट्टी का रसगुल्ला मतलब, रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद, चैतन्य महाप्रभु, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, श्यामा प्रसाद मुखर्जी जैसे महापुरुषों की चरण। महापुरुषों के पैरों की धूल, वो माटी जिन पर उनके पैर पड़े, वो माटी जिन्होंने देश को बनाने वाले ऐसे महान व्यक्तित्वों को बनाया, मुझे अब उस माटी का प्रसाद मिलेगा तो मेरा जीवन धन्य हो जाएगा।



ममता सरकार पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दीदी आपकी जमीन खिसक चुकी है और देख लेना 23 मई को जब नतीजे आएंगे तो आपके विधायक भी आपको छोड़कर भाग जाएंगे. आज भी आपके 40 विधायक मेरे संपर्क में हैं. दीदी आपने विश्वासघात किया है, आज जो पश्चिम बंगाल में गुस्सा है वो आपके विश्वासघात का है और इस विश्वासघात की कीमत यहां का नौजवान लेकर रहेगा.

पीएम मोदी ने कहा, 'पूरा देश इस बार कह रहा है कि पश्चिम बंगाल नए भारत के निर्माण के लिए इस बार ऐतिहासिक जनादेश दे रहा है। आपके इस प्यार, आशीर्वाद के लिए मैं आपका बहुत-बहुत आभार व्यक्त करता हूं।' उन्होंने कहा कि हर चरण के साथ महामिलावट करने वालों का दिल बैठ जाता है, धड़कने लग जाता है। वे घबराए हुए भी हैं और बौखलाए हुए भी हैं। इसलिए पहले जो सिर्फ मोदी को गाली देते थे अब धीरे-धीरे ईवीएम को गाली देना शुरू कर दिया है। इस चुनाव में या तो मोदी को गाली दो या ईवीएम को गाली दो। यही इनके चुनाव प्रचार का तरीका है।

Special Coverage News
Next Story
Share it