Top
Home > राज्य > पश्चिम बंगाल > प्रशांत किशोर ने टीएमसी के लिए बनाई नई रणनीति

प्रशांत किशोर ने टीएमसी के लिए बनाई नई रणनीति

यूथ इन पॉलिटिक्स एक ऐसा अनोखा देशव्यापी मंच है, जो 18 से 35 वर्ष के युवाओं को प्रशांत किशोर और I-PAC (इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमिटी) के मार्गदर्शन में सक्रिय राजनीति में आने का मौका देता है

 Sujeet Kumar Gupta |  10 July 2019 8:08 AM GMT  |  नई दिल्ली

प्रशांत किशोर ने टीएमसी के लिए बनाई नई रणनीति
x

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में राज करने करने वाली टीएमसी पार्टी की जड़े 2019 लोकसभा चुनाव में हिलती नजर आई और 42 लोकसभा सीटों में टीएमसी को केवल 22 सीटों पर ही जीत हासिल कर पाई तो 18 पर भाजपा तो 2 सीटों पर कांग्रेस को विजय मिली। अब साल 2021 के विधानसभा चुनाव में राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस को जीत दिलाने के लिहाज से राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने विशेष रणनीति बनाने मे जुट गये है। उन्होंने पांच लाख युवाओं को राजनीतिक गतिविधियों को समझने और अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचने का गुण सिखाने का निर्णय लिया है। इसके लिए सत्तारूढ़ टीएमसी से जुड़े युवाओं को प्रशिक्षित करने की योजना के तहत वह काम कर रहे हैं। तृणमूल कांग्रेस की ओर से इस बारे में जानकारी दी गई है।

किशोर ने इस अभियान को "यूथ इन पॉलिटिक्स" नाम दिया है। इसके लिए उनकी टीम एक सूची तैयार कर रही है जिसमें इन युवाओं को पंजीकृत किया जाएगा। किशोर ने बताया कि सितंबर महीने तक यह सूची तैयार कर ली जाएगी। उसके बाद विधानसभा चुनाव से पहले 15 महीने तक प्रशांत किशोर इन युवाओं को प्रशिक्षण देंगे। हालांकि इसमें केवल तृणमूल से जुड़े हुए युवा ही शामिल हो सकते हैं ऐसी कोई बाध्यता नहीं है। किसी भी पार्टी से जुड़े लोग अथवा गैर राजनीतिक मंच के युवा भी प्रशांत किशोर के साथ जुड़ सकते हैं। उनकी टीम का कहना है कि भारत में साफ-सुथरी राजनीति और राष्ट्र के विकास के लिहाज से काम करने की रीति विकसित करने के लिए उन्होंने यह पहल की है। फिलहाल वह तृणमूल कांग्रेस के राजनीतिक रणनीतिकार के तौर पर नियुक्त किए गए हैं, इसलिए इसका सबसे अधिक लाभ तृणमूल को ही होगा।

जाने यूथ इन पॉलिटिक्स के बारे में

यूथ इन पॉलिटिक्स एक ऐसा अनोखा देशव्यापी मंच है, जो 18 से 35 वर्ष के युवाओं को प्रशांत किशोर और I-PAC (इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमिटी) के मार्गदर्शन में सक्रिय राजनीति में आने का मौका देता है। राजनीतिक परिदृश्य को बदलने और युवाओं की सक्रिय राजनीति में आनुपातिक सहभागिता सुनिश्चित करने के दृष्टिकोण से इसकी शुरुआत की गयी है। YIP उन युवाओं का स्वागत एवं मार्गदर्शन करता है, जो सक्रिय चुनावी राजनीति में आना चाहते हैं।

बतादें कि देश के सबसे अधिक कुशल राजनीतिक रणनीतिकार के तौर पर पहचाने जाने वाले प्रशांत किशोर, यूनाइटेड नेशन में बतौर पब्लिक हेल्थ एक्सपर्ट काम कर चुके हैं। प्रशांत किशोर को युवा प्रोफेशनल्स को चुनावी प्रक्रिया में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए मंच प्रदान करने एवं चुनावी प्रचार में क्रांतिकारी बदलाव लाने का श्रेय जाता है। वे CAG और I-PAC का मार्गदर्शन करने के साथ ही, नरेंद्र मोदी, नीतीश कुमार और कैप्टन अमरिंदर सिंह जैसे कई बड़े नेताओं को चुनावी सफलता प्राप्त करने में सहायता कर चुके हैं।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it