Home > संपादकीय > महंगाई की चौतरफा मार, लोगों की नज़रों से उतरती जा रही है मोदी सरकार!

महंगाई की चौतरफा मार, लोगों की नज़रों से उतरती जा रही है मोदी सरकार!

देश में पहले से ही पेट्रोल और डीजल की मार झेल रहे आम आदमी पर आज मोदी सरकार ने मंहगाई की चौतरफा मार कर दी है।

 Special Coverage News |  2018-10-01 09:51:49.0  |  दिल्ली

महंगाई की चौतरफा मार, लोगों की नज़रों से उतरती जा रही है मोदी सरकार!

यूसुफ़ अंसारी


देश में पहले से ही पेट्रोल और डीजल की मार झेल रहे आम आदमी पर आज मोदी सरकार ने मंहगाई की चौतरफा मार कर दी है। पेट्रोल-डीज़ल के दाम तो रोज़ाना के हिसाब से बढ़ ही रहे हैं, आज मोदी सरकार ने एलपीजी और पीएनजी के दाम बढ़ाकर आम आदमी पर मंहगाई का चौतरफा हमला बोल दिया है। मोदी सरकार के इस फैसले ने पहले से ही मंहगाई की मार झेल रहे आम आदमी की कमर और तोड़ दी है.

दो महीने पहले अगस्त से तेल की कीमतों में बढ़ोतरी का जो सिलसिला शुरु हुआ था वह अभी रुकने का नम नहीं रहा। अब मोदी सरकरा ने पीएनजी, सीएनजी और एलपीजी की क़ीमते बढ़ा कर आम आदमी का कमर का बोझ को बढ़ा दिया है। इस तरह से आम नागरिक को अब चौतरफा महंगाई का सामना करना पड़ रहा है। जहां मोदी को वोट देकर सत्ता मे लाने वाले लोग भी मंहगाई पर बात करन से कतराने लगे हैं. उन्हें उम्मीद थी कि सरकार जल्द ही पेट्रोल-डीज़ल के दाम करन का रास्ता निकाल कर आम लोगो को थोड़ी बहुत राहत देगी लेकिन सरकार के गैसों के दाम बढ़ाने के फासल ने इन उम्मीदों पर पानी फेरलदिया है। ज़ाहिर है मोदी सरकार आम आदमी को फिलहाल कोई राहत देने के मूड में नजर लगती।

दिल्ली में 83 के पार हुआ पेट्रोल

पिछले दो महीनों से लगातार पेट्रोल-डीज़ल के लगातार बढ़ते दामों की वजह से दिल्ली में पेट्रोल 83.73 रुपये प्रति लीटर और डीजल 75.09 रुपये प्रति लीटर की ऊंची दर परपहुंच गया। वहीं मुंबई में पेट्रोल की कीमत 90 रुपये के ऊपर पहुंच चुकी है। आज देश की आर्थिक राजधानी में पेट्रोल 91.08 रुपये प्रति लीटर और डीज़ल 79.72 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बिक रहा है। तेल की कीमतों में रोजाना होने वाले इस इजाफे को कच्चे तेल की कीमतों में हुई बढ़ोतरी को बताई जा रही है। आने वाले दिनों में भी शायद ही इससे आम लोगों को कोई राहत मिले। इसके उलट पेट्रोल की क़ामत सौ रुपए के आंकड़े को छूने की आशंका जताई जा रही है।

ग़ैर सब्सिडी वाले घरेलू गैस सिलिंडर हुआ 59 रुपये महंगा

मोदी सरकार ने ग़ैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलिंडर की कीमत में सोमवार को 59 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है। वहीं, सब्सिडी वाले सिलिंडर की कीमत में भी 2.89 रुपये की बढ़ोततेरी की गई है। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के मुताबिक, रुपये में हो रहे उतार-चढ़ाव और अंतरराष्ट्रीय कीमतों में बदलाव के चलते अब दिल्ली में सब्सिडी वाला एलपीजी सिलिंडर 502.4 रुपये का मिलेगा। इसके अलावा सब्सिडी वाली घरेलू गैस की कीमतों में भी बढ़ोतरी 2.89 रुपये प्रति सिलिंडर की वृद्धि हुई है। यह इजाफा जीएसटी के कारण हुआ है।

दिल्ली-एनसीआर में फिर बढ़े सीएनजी-पीएनजी के दाम

आम लोगों पर मंहगाई की मार सिर्फ पेट्रोल-डीज़ल की गाड़ियों वालों तक ही सीमित नहीं है. बल्कि सीएनजी गाड़ी इस्तेमाल करने वालों पर भी मंहगाई की मार पड़ेगी। रसोई में सिलेंडर की जगह पीएनजी इस्तेमाल करने वाली गृहणियां भी मंहगाई की ज़द में हैं। दिल्ली में अब सीएनजी 1 रुपया 70 पैसा महंगा हो गई है तो नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में इसकी क़ीमतो में 1 रुपया 95 पैसों की बढ़ोत्तरी हुई है। इसके अलावा रसोई गैस में इस्तेमाल होने वाली पीएनजी के दाम में भी वृद्धि की गई है। दिल्ली में पीएनजी की कीमत 1.30 रुपये प्रति स्टैंडर्ड क्यूबिक मीटर (एससीएम) की बढ़ाई गई है। इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने रविवार की आधी रात से कीमतें बढ़ाने की घोषणा कर दी है।

मोदी सरकार की पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतों में लगातार हो सही बढ़ोत्तरी को रोकने में नाकामी की वजह से आम आदमी को लगातार अपनी जेब ढीली करनी पड़ रही है। लोगों की आमदनी बढ़ नहीं रही। पेट्रोल-डीज़ल के लगातार बढ़ती क़ीमतों की वजह से रोज़मर्रा की ज़रूरत की चीज़ों के दाम भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इससे आम लोगों को परिवार के खर्चे पूरे करने में दिक्कतें आ रहीं है। आम लोगों की बढ़ती दिक्कतें आगे चल कर मोदी सरकार की दिक्कते भी बढ़ सकती हैं।

Tags:    
Share it
Top