Top
Begin typing your search...

हिंसक हुआ जाट आंदोलन : पुलिस फायरिंग में 1 की मौत कई घायल, कैप्टन अभिमन्यु के घर पर हमला

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
हिंसक हुआ जाट आंदोलन

रोहतक : रोहतक में आरक्षण की मांग को लेकर जाट समुदाय के आंदोलन ने हिंसक रूप ले लिया है। प्रदर्शनकारियों ने हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु सिंह के घर पर तोड़फोड़ कर उनकी कार को आग के हवाले कर दिया है। पुलिस ने हिंसक भीड़ पर नियंत्रण के लिए फायरिंग की है। कई प्रदर्शनकारी जख्मी हुए हैं, एक व्यक्ति की मौत की भी खबर है। जाटों ने गुड़गांव में सड़क भी जाम कर दिया है। जाट अपने लिए ओबीसी कोटे में आरक्षण की मांग कर रहे हैं।

शुक्रवार को करीब 5000 की संख्या में युवा सड़क पर उतर आए। दोपहर में भीड़ ने रोहतक आईजी के ऑफिस पर पथराव कर दिया। उन्होंने आईजीपी ऑफिस के एक गेट में आग भी लगा दी। रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिसवालों ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आईजीपी ऑफिस के भीतर से फायरिंग शुरू कर दी।

प्रदर्शनकारियों ने पुलिस जीप को भी आग के हवाले कर दिया। भीड़ ने शहर के एग्रो मॉल में पार्क करीब 15 कारों, तीन बसों और पुलिस की एक गाड़ी को भी नुकसान पहुंचा दिया। भीड़ के हिंसक प्रदर्शन का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुलिस को भी मौके से पीछे हटना पड़ा।

इसे भी पढ़ें : हरियाणा जाट आरक्षण : CM खट्टर व हुड्डा की मौजूदगी में सर्वदलीय बैठक शुरू

उग्र होते आंदोलन पर काबू पाने के लिए सरकार ने राज्य के कई हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सर्विस बंद कर दी। वहीं रोहतक में एसएमएस पर भी रोक लगा दी गई। इस बीच, प्रदर्शनकारियों ने आरक्षण की मांग में सोनीपत-दिल्ली-अंबाला-चंडीगढ़ रेलवे ट्रैक भी ब्लॉक कर दिया।

जाट आरक्षण की मांग को लेकर हिंसक होते प्रदर्शन के बीच खट्टर सरकार ने आज सर्वदलीय बैठक भी बुलाई थी। बैठक में सीएम मनोहर लाल खट्टर ने जाट नेताओं से बातचीत की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर तमाम लोगों से राय मांगी है और जैसा भी निष्कर्ष निकलेगा, उस हिसाब से सरकार विधानसभा सत्र में मुद्दा लाएगी।
Special News Coverage
Next Story
Share it