Top
Begin typing your search...

नजमा हेपतुल्ला का ओवैसी को करारा जवाब - 'गर्दन पर कोई छुरी रख दे तब भी बोलूंगी, भारत माता की जय'

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
Najma Heptullah
अल्‍पसंख्‍यक मामलों की मंत्री नजमा हेपतुल्‍ला।



नई दिल्ली : मोदी सरकार में अल्पसंख्यक मंत्री नजमा हेपतुल्ला ने ओवैसी को करारा जवाब दिया है। नजमा हेपतुल्ला ने कहा है, “अगर कोई मेरी गर्दन पर छुरी रखे तब भी भारत माता की जय बोलूंगी, मर कर भी बोलूंगी।” हेपतुल्ला ने आगे कहा कि मुझे अफसोस है कि उन्होंने ऐसी बात कही।

इससे पहल केंद्रीय शिक्षा मंत्री स्मृति ईरानी भी ओवैसी के बयान पर हैरानी जता चुकीं हैं। स्मृति ईरानी ने ओवैसी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था, ”एक नागरिक के नाते, मुझे लगता है कि अगर भारत में भारत माता का सम्मान नहीं किया जाएगा तो और कहां किया जाएगा।’’

इसे भी पढ़ें : देखें विडिओः गर्दन भी काट देने पर नहीं बोलूँगा ‘भारत माता की जय’: असदुद्दीन ओवैसी

दरअसल सोमवार को महाराष्ट्र के लातूर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा था, ‘मेरे गले फर छुरी भी रख दो तो भी मैं भारत माता की यह नहीं बोलूंगा।’ ओवैसी ने आगे कहा, ”हमारे कॉन्स्टीट्यूशन में यह कहीं नहीं लिखा है कि सभी को भारत माता की जय बोलना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें : जावेद अख्तर ने ओवैसी को ‘भारत माता की जय’ बोलकर दिया जवाब


इससे पहले, राजयसभा सदस्य जावेद अख्तर ने राज्यसभा से अपने कार्यकाल की समाप्ति पर अपने विदाई भाषण में ओवैसी का नाम लिए बगैर कहा, "आंध्र प्रदेश में एक शख्स हैं, जो कोई राष्ट्रीय नेता नहीं है। राज्य स्तर के नेता भी नहीं हैं। केवल हैदराबाद के एक मोहल्ला छाप नेता है। वह कहते हैं कि किसी भी कीमत पर "भारत माता की जय" नहीं बोलूंगा, क्योंकि यह संविधान में नहीं लिखा है। वह बताएं कि संविधान में शेरवानी और टोपी पहनने की बात कहां लिखी है। बात यह नहीं है कि भारत माता की जय बोलना मेरा कर्तव्य है या नहीं। बात यह है कि भारत माता की जय बोलना मेरा अधिकार है। मैं कहता हूं- भारत माता की जय, भारत माता की जय, भारत माता की जय।" इसके बाद उच्च सदन सदस्यों की तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।
Special News Coverage
Next Story
Share it