Top
Home > Archived > राहुल गांधी बोले, मैं बोलना चाहता हूं पर PM मोदी मुझे बोलने नहीं देते

राहुल गांधी बोले, मैं बोलना चाहता हूं पर PM मोदी मुझे बोलने नहीं देते

 Special News Coverage |  10 March 2016 8:32 AM GMT

Rahul say


नई दिल्ली : राहुल गांधी ने कहा कि मैं बोलना चाहता हूं पर सरकार और प्रधानमंत्री मोदी मुझे बोलने नहीं देते। राहुल गांधी ने विजय माल्या पर पूछे गए सवाल पर जवाब दिया कि सरकार उनकों इस मुद्दे पर बात नहीं करने दे रही है। पीएम नरेंद्र मोदी नहीं चाहते की इस मामले पर चर्चा हो।

राहुल गांधी ने कहा हमने राज्यसभा में अरुण जेटली से सीधा सवाल पूछा था कि विजय माल्या कैसे देश छोड़कर चले गए। लेकिन जेटली जी ने इसका सीधा जवाब ना देते हुए लंबा-चौड़ा भाषण दे डाला। हम सरकार से यही सवाल पूछते हैं कि इतनी बड़ी रकम का कर्जदार कैसे भाग गया। एक तरफ सरकार लोगों से काला धन वापस लाने की बात कर रही है और दूसरी तरफ सरकार इस तरह अपराधियों को आसानी से देश से जाने देती है।


इसे भी पढ़ें : राज्यसभा में उठा विजय माल्या का मुद्दा : कांग्रेस बोली, सरकार ने भगाया – बीजेपी ने दिया जवाब

उन्होंने कहा कि मैंने सरकार से 3-4 सवाल किए थे। मैंने सरकार से फेयर एंड लवली स्कीम के बारे में पूछा। पीएम की कार्यशैली के बारे में सवाल किया। लेकिन पीएम ने दोनों सदनों में भाषण दिया लेकिन इन सवालों का जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा, फेयर ऐंड लवली स्कीम का माल्या को फायदा पहुंचा और उन्हें 9 हजार करोड़ रुपए लेकर भागने दिया गया।

गौरतलब हो कि करीब 17 सरकारी बैंकों का कर्ज चुकाने में नाकामयाब रहे विजय माल्या देश छोड़ चुके हैं। इस पर राज्यसभा में गुरुवार को कांग्रेस ने विजय माल्या के मुद्दे पर सरकार को घेरा। 30 नवंबर 2015 तक माल्या पर कुल 9091 करोड़ रुपए का बकाया है। बीजेपी के नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि विजय माल्या कहीं भी शांति से नहीं रह सकते, उन्हें हर हाल में भारत वापस लाया जाएगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it