Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजियाबाद > प्रेमी जोड़े के हत्या के आरोप में में ASI गिरफ्तार, गाजियाबाद के साईं उपवन में मिली थी दोनों की लाश!

प्रेमी जोड़े के हत्या के आरोप में में ASI गिरफ्तार, गाजियाबाद के साईं उपवन में मिली थी दोनों की लाश!

25 मार्च की सुबह पुलिस को 8 बजे किसी ने फोन कर जानकारी दी कि साईं उपवन इलाके में कार से आए दो लोगों ने एक लड़के और लड़की की गोली मार कर हत्या कर दी है.

 Special Coverage News |  1 April 2019 5:26 AM GMT  |  दिल्ली

प्रेमी जोड़े के हत्या के आरोप में में ASI गिरफ्तार, गाजियाबाद के साईं उपवन में मिली थी दोनों की लाश!

गाजियाबाद : यूपी के जनपद गाजियाबाद पुलिस ने प्रेमी जोड़े के हत्या के आरोप में दिल्ली पुलिस के एक एएसआई और उसके साथी को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक एएसआई दिनेश कुमार और उसके साथी पिन्टू शर्मा ने 25 मार्च को गाज़ियाबाद के कोतवाली थाने इलाके में एक प्रेमी जोड़े की गोली मार कर हत्या कर दी थी.

दरअसल, 25 मार्च की सुबह पुलिस को 8 बजे किसी ने फोन कर जानकारी दी कि साईं उपवन इलाके में कार से आए दो लोगों ने एक लड़के और लड़की की गोली मार कर हत्या कर दी है. पुलिस को जांच में पता चला की जिस लड़के और लड़की की हत्या की गई है उनके नाम प्रीति और सुरेन्द्र थे और दोनों की जल्द ही शादी होने वाली थी. पुलिस के मुताबिक वारदात को जिस तरह अंजाम दिया गया था उससे साफ था की हत्यारों का इन दोनों से रंजिश थी. पुलिस की जांच में सुरेन्द्र की किसी से दुश्मनी की बात सामने नहीं आई.

इसे भी पढ़ें : गाजियाबाद : प्रेमी-प्रेमिका की लाश मिलने से मचा हड़कंप, पुलिस जांच में जुटी

इस बीच पुलिस को पता लगा की प्रीति की दोस्ती कुछ समय पहले दिनेश कुमार नाम के एक व्यक्ति के साथ थी. पुलिस ने छानबीन तेज की तो पता चला की दिनेश कुमार, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस में एएसआई है. शक के आधार पर जब पुलिस ने जांच आगे बढ़ाई तो पता लगा की दिनेश, प्रीति की शादी तय हो जाने की वजह से वह बेहद गुस्से में था और उसने प्रीति को धमकी भी दी थी.

पहले प्रीति और दिनेश का घर आस-पास था, प्रीति विजय नगर में अपने रिश्तेदार के घर रहती थी, लेकिन कुछ समय पहले प्रीति कोतवाली इलाके में अपने पिता के घर आकर रहने लगी थी. यहां पर प्रीति की दोस्ती सुरेन्द्र नाम के युवक से हो गई. थोड़े विरोध के बाद प्रीति के घरवाले सुरेन्द्र के साथ उसकी शादी करने को तैयार हो गए थे. जैसे ही बात दिनेश को पता लगा वो गुस्से से आग बबूला हो गया और प्रीति की हत्या की साजिश रच दी.

दिनेश ने अपने दोस्त पिन्टू शर्मा से बात की और उसे हत्या की साजिश में शामिल कर लिया. जिसके बाद दोनों ने 25 मार्च की सुबह प्रीति और सुरेन्द्र की गोली मार कर हत्या कर दी.

गिरफ्तार आरोपी एएसआई दिनेश सन 1994 में दिल्ली पुलिस में सिपाही के पद पर भर्ती हुआ था और 2008 में वह हैड कांस्टेबल बना था. उसके बाद 2016 में वो एएसआई बन गया था. दिनेश ट्रैफिक पुलिस में तैनाती से पहले दिल्ली के कई थानों में भी तैनात रह चुका था.

गाज़ियाबाद के एसएसपी ने बताया कि आरोपी दिनेश के कब्जे से पुलिस ने सरकारी पिस्टल भी बरामद कर ली है जिससे दोनों को मौत के घाट उतारा गया था. साथ में जिस कार से घटना को अंजाम दिया गया पुलिस ने उसे भी जब्त कर लिया है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it